Hullad Ke Dohe Aur Kundaliya (PB)

Hullad Ke Dohe Aur Kundaliya (PB)

Rs. 20/-

  • ISBN:978-81-7309-2
  • Pages:
  • Edition:
  • Language:
  • Year:
  • Binding:

श्री हुल्लड़ मुरादाबादी हास्य-व्यंग्य विधा के एक जानेमाने कवि हैं और अत्यंत लोकप्रिय हैं। नाना फिल्मों में एक सफल गीतकार ओर कुशल अभिनेता के रूप में भी श्री हुल्लड़ मुरादाबादी आपना परिचय दे चुके हैं। प्रस्तुत पुस्तक के दोहे अपने संदर्भों और अभिप्रायों में स्वतंत्र होने पर भी कवि की मूल्य निष्ठा, मानवीय संशक्ति, आस्था, चेतना जैसे गुणों से समृद्ध हैं। इस पुस्तक में जीवन के बहुत गंभीर प्रश्नों पर व्यंग्य द्वारा बहुत ही व्यावहारिक समाधान प्रस्तुत करने का प्रयास किया गया है और कुल मिलाकर सब कुछ बहुत ही रोचक बन पाया है। हमें विश्वास है कि हास्य-व्यंग्य कवि के अन्य काव्य-संकलनों की भांति इस संकलन का भी हिंदी जगत में स्वागत होगा।

Write a review

Note: HTML is not translated!
  • Bad
  • Good