Navin Chikitsa (PB)

Navin Chikitsa (PB)

Rs. 45/-

  • ISBN:81-7309-048-1
  • Pages:
  • Edition:
  • Language:
  • Year:
  • Binding:

लुइ कूने की इस विषय की अत्यंत महत्वपूर्ण पुस्तक है ‘दि न्यू साइन्स आव हीलिंग’। इस पुस्तक को इतनी लोकप्रियता प्राप्त हुई है कि अब तक इसके पचास से अधिक संस्करण हो चुके हैं और विश्व की पच्चीस भाषाओं में उसके अनुवाद प्रकाशित हुए हैं। इसी पुस्तक के आधार पर प्रस्तुत पुस्तक की रचना की गई है। मूल भावों और सार-तत्वों को सुरक्षित रख कर अनुवादक ने भारतीयों की दृष्टि से अनके अनावश्यक विस्तारों को कम कर दिया है और भाषा को इतना सरल-सुबोध बना दिया है कि सामान्य पढ़े-लिखे लोग भी इसे आसानी से समझ सकते हैं। पुस्तक में तीन खंड प्रमुख हैं। पहले में लेखक ने बताया है कि नवीन चिकित्सा का उन्होंने किस प्रकार आविष्कार किया, बीमारियों का मूल कारण क्या हैं, बच्चों के रोगों की जड़ और उपचार, इलाज के मुख्य साधन, सही खानपान आदि आदि। दूसरे खंड में विभिन्न रोगों के कारण, उनका स्वरूप और उनकी चिकित्सा बताई है। तीसरे में उन्होंने बताया है कि घावों को बिना दवा और चीरफाड़ के किस प्रकार अच्छा किया जा सकता हैं स्त्रियों के विभिन्न रोग, उनके कारण और उपाय, गर्भवती स्त्रियों की देखभाल, प्रसूति, शुरू के महीनों में बच्चों का पोषण, आदि-आदि।

Write a review

Note: HTML is not translated!
  • Bad
  • Good