Mati Ki Murat Jagi (PB)

Mati Ki Murat Jagi (PB)

Rs. 15/-

  • ISBN:978-81-7309-2
  • Pages:
  • Edition:
  • Language:
  • Year:
  • Binding:

बालकों तथा प्रौढ़ों की पढ़ाई की तरफ जब से ध्यान गया है, ऐसी किताबों की मांग बढ़ गई है, जो बहुत ही आसान हों, जिनके विषय रोचक हों, जिनकी भाषा मुहावरेदार और बोलचाल की हो ओर जो मोटे टाइप में बढ़िया छपी हों। यह पस्तक इन्हीं बातों को सामने राकर निकाली गई है। इन सबकी भाषा बड़ी आसान रखी गई और जहां तक हो सका है, मिले-जुले कठिन शब्दों का प्रयोग नहीं होने दिया है। विषयों का चुनाव बड़ी सावधानी से किया गया है। विषय ऐसे लिएक गए हैं कि जिनमें पाठकों की खास रुचि हो। छपाई-सफाई के बारे में विशेष ध्यान रखा गया है। हर किताब में चित्र भी देने की कोशिश की है।

Write a review

Note: HTML is not translated!
  • Bad
  • Good